कमिश्नर जनसंपर्क पी नरहरि की तरकीब काम आई, ऐसे सुधरेगी विभागों की इमेज




''हाल में कमिश्नर जनसंपर्क पी नरहरि ने इस आशय के निर्देश सभी विभागों को दिए थे कि अखबारों में ख़बरें छपती रहती हैं और हम उन पर कोई संज्ञान नहीं लेते. इससे विभागों की छबि धूमिल होती है. उन्होंने निर्देश दिए थे कि यदि खबर सही है तो उस पर वैसी कार्यवाही करें और यदि खबर सही नहीं है, तो उसके बारे में यह जानकारी दें कि खबर सही नहीं है. कमिश्नर जनसंपर्क पी नरहरि की यह तरकीब काम आई है. अब निश्चित रूप से उनकी पहल से विभागों की इमेज में सुधार आयेगा. सही है चुनावी वर्ष है ऐसे में किसी भी प्रकार से कोई ढील नहीं होना चाहिए.''

बालक लोचन बैरवा का इलाज 6 माह पूर्व ही कर दिया गया था
श्योपुर. कमिश्नर जनसंपर्क पी नरहरि के निर्देश के बाद अब विभाग सक्रिय हो गए हैं. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला श्योपुर डॉ. एनसी गुप्ता ने बताया कि 14 वर्षीय बालक लोचन बैरवा श्योपुर की पसलियों में पानी भर गया था, जिसका इलाज 6-7 माह पूर्व कर दिया गया था. उन्होंने बताया बालक लोचन बैरवा का उपचार कर पसलियों का पानी ग्वालियर हास्पिटल में निकाल दिया गया था तथा श्योपुर हास्पिटल में टीबी का इलाज भी 6 माह तक पूरा दे दिया गया था.

उन्होंने नई दुनिया समाचार पत्र में बालक का इलाज नहीं होने संबंधी प्रकाशित खबर का खण्डन करते हुए बताया कि यह सही नहीं है. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एनसी गुप्ता ने बताया कि वर्तमान में जिला अस्पातल श्योपुर में पुन मरीज की जाच-परीक्षण व एक्सरे किया गया था, जिसकी रिपोर्ट का परीक्षण करने पर मरीज को कोई परेशानी नहीं पाई गई है.

उल्लेखनीय है कि जनसंपर्क संचालनालय के आयुक्त श्री पी. नरहरि ने सरकारी विभागों से कहा था कि विसंगतियों, घपलों इत्यादि के समाचार प्रकाशित होने से शासन की छवि धूमिल होती है. कई बार विभागीय स्तर पर जांच या उचित कार्रवाई नहीं हो पाती है. शासन की मंशा है कि यदि समाचार में लिखी बातें सत्य हैं, तो संबंधित पर कार्रवाई जरूर हो. और यदि सत्य नहीं हैं तो वैसी जानकारी दें. 

by janjagran.net




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc