प्यार बांटोगे तो प्यार मिलेगा, दिल में है जगह तो कोई किसी से दूर नहीं - कलेक्टर संकेत भोंडवे



''प्यार बांटोगे तो प्यार मिलेगा, दिल में है जगह तो कोई किसी से दूर नहीं. यह बात कलेक्टर उज्जैन संकेत भोंडवे के दिव्यांग प्रेम से सामने आई. वे पूरे समय शहर में दिव्यांग प्रेमी के रूप में ख़ास चर्चित रहे. यही कारण है कि शहर की 151 स्वयंसेवी संस्थाओं ने उन्हें दिल्ली से बुलाकर महाकाल मंदिर में उन्हें ख़ास भावभीनी विदाई दी.'' 



उज्जैन से 
प्रशांत अन्जाना  


लेक्टर उज्जैन के रूप में कार्य करते हुए संकेत भोंडवे ने दिव्यांग प्रेम के कई उदाहरण प्रस्तुत किये, जिससे वह अल्प समय में दिव्यांग प्रेमी के रूप में चर्चित हो गए थे. इससे उन्होंने शहर के उन लोगों के दिलों में ख़ास
जगह बना ली, जो सेवा का प्राण रखते थे. लोगों की इस नब्ज को कलेक्टर संकेत भोंडवे ने भी जल्दी ही पहचान लिया और सरकार के ख़ास खुशी बांटने वाले आनंद मंत्रालय गठन के बाद उन्होंने शहर में आनंदक परिवार का गठन कर लिया. 

इसी आनंदक परिवार ने उन्हें आज दिल्ली से विशेष टूर पर बुलवाकर महाकाल प्रवचन हाल में उनका अभिनन्दन समारोह रखा. जिसका लक्ष्य था कि 101 संस्थाएं उनका नागरिक अभिनन्दन करेंगी, लेकिन कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने लोगों के दिलों में इतनी अधिक जगह बना ली थी कि आज 151संस्थाओं ने उनका नागरिक अभिनन्दन किया. 

इस अवसर पर अपने उद्बोधन में श्री संकेत भोंडवे ने कहा कि जब वे बिना विदाई के दिल्ली निकल गए तो बहुत फोन उनके पास आये. कहा गया कि इतनी जल्दी जाने की जरूरत क्या थी. इतना प्यार देख कर आँखों में आंसू आ जाते हैं. उन्होंने कहा आज दूर संचार के क्रांतिकारी युग में यदि दिल में है जगह तो कोई किसी से दूर नहीं है. कार्यक्रम में नव पदस्थ कलेक्टर मनीष सिंह भी उपस्थित रहे.





Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc