भ्रष्टाचार के चलते धरातल पर दम तोड़ देती हैं जनहित की योजनायें


बाड़ी में सरपंच-सचिव के साथ विभागीय अधिकारियों ने किया बंदरबांट, लगाया चूना

''सरकार जनहित की शासकीय योजनायें तो खूब बनाती है. प्रचार भी अच्छा किया जाता है, लेकिन उन पर धरातल पर क्या हो रहा है, यह नहीं देखा जाता. परिणाम भ्रष्टाचार के चलते  वह दम तोड़ देती हैं. और जनता को अपेक्षित लाभ नहीं मिल पाता. ऐसा ही कुछ रायसेन जिले की बाड़ी में भी हो रहा है.'' 

बाड़ी से सुरेश साहू की रिपोर्ट 
संवाददाता डिजिटल इंडिया 18 ऑनलाइन 

ग्राम पंचायत पर स्लोगन तो बहुत खूबसूरत लिखे हैं कि 'नहीं पूजते जो जन जल, वे हैं इस दुनिया के खल' और 'मां नर्मदा का श्रुंगार, वृक्ष किनारे छायादार', लेकिन व्यवहारिक बात करें तो काम में जमीन आसमान का अंतर है. ग्राम पंचायत में जम कर भ्रष्टाचार किया जा रहा है. 

रायसेन जिले की बाड़ी की ग्राम पंचायत सौजनी की महिला सरपंच सुमन वाई के विरुद्ध पंचों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव पास कर दिए जाने के बाद भी सरपंच द्वारा नियम विरुद्ध शासकीय योजनाओं में गलत तरीके से राशि निकाल कर शासन को चूना लगाया गया. मामले में विभागीय अधिकारियों की संलिप्तता भी स्पष्ट देखी जा रही है. बताया जा रहा है महिला सरपंच और उसके परिजनों द्वारा विगत तीन वर्ष के कार्यकाल में जन हित की शासकीय योजनाओं में गलत तरीके से राशि निकाल कर बंदरबांट किया गया. 

ग्रामीण बताते हैं वास्तव में महिला सरपंच के जेठ नारायण सिंह पूरी पंचायत चलाते हैं. बताया जा रहा है भ्रष्टाचार की शिकायतों के चलते सरपंच का पद 28 मार्च को रिक्त कर दिया गया था. जांच में पता चला है कि इसके बाद भी 17 अप्रेल को सरपंच एवं सचिव सुमरण सिंह विश्वकर्मा द्वारा मिलीभगत कर पञ्च परमेश्वर योजना के तहत किये गए कार्यों की राशि 91850.00 का आहरण किया गया. बिल न. 25 से 20000.00,  बिल न. 92 से 24750.00,   बिल न. 93 से 23100.00 व  बिल न. 97 से 24000.00 की राशि का आहरण किया गया. इससे साफ़ जाहिर है कि सरपंच सचिव द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार में विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत है. 

दैनिक भास्कर में प्रकाशित खबर के अनुसार बाड़ी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी मेघराज मीणा का कहना है कि ग्राम पंचायत सौजनी की शिकायतें लम्बे समय से आ रही है. शिकायतों के चलते वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा जांच की गई है. जनपद पंचायत बाड़ी के अधिकारी कर्मचारी भी जांच में शामिल रहे हैं. जांच रिपोर्ट अभी आई नहीं है, जैसे ही जांच रिपोर्ट आती है. कार्यवाही की जायेगी.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc