जैसा कि शुरू से ही चर्चा में था, 2000 का नोट बंद कर दिया गया है?



Image result for २००० रुपीस नोट

केश की किल्लत पर
मध्यप्रदेश सरकार का गैर जिम्मेदाराना रवैया

जब आये थे तभी से कहा जा रहा था ज्यादा दिन नहीं चलने वाले. अब कई महीने से दो हजार के नोट के दर्शन दुर्लभ हो गए हैं. ढूंढे नहीं मिल रहा 2000 का नोट. इसी के साथ देश भर में ATM भी खाली होकर साथ छोड़ रहे हैं. विवाह का सीजन चल रहा है ऐसे में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. 

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह खुद भी समस्या से परेशान बताये जा रहे हैं. उन्होंने कहा है कि कुछ लोग 2000 के नोट दबाकर नकदी की कमी पैदा करने की की साजिश रच रहे हैं, लेकिन वह यह नहीं बता सके कि साजिश कौन रच रहा है? और ऐसे में सरकार की कोई जिम्मेदारी बनती है या नहीं? और ऐसे में सरकार क्या कर रही है? 

जो चर्चा में है उसके अनुसार 2 बातें हैं कि या तो 2000 रुपये के नोटों पर कालेधन के कारोबारियों ने कुंडली मार ली? या सरकार ने ही धीरे धीरे समेट लिए या रिजर्व बैंक ने ही बड़े नोटों की सप्लाई कम कर दी? माना यह जा रहा है कि 2000 का नोट आगे पीछे बंद तो होना ही था, सो अघोषित रूप से बंद किया जा चुका है. 

पिछले कई माह से रिजर्व बैंक द्वारा बैंकों को मिलने वाले कैश में 2000 रुपये के नोट नहीं दिए जा रहे थे.  बैंकों से कहा गया है कि वे अपने एटीएम में 2000 रुपये के नोट न भरें. एक जानकारी के अनुसार एटीएम में 2000 रुपये के खांचे को भी खत्म करने की प्रक्रिया की जा रही है. इसकी जगह 500 और 200 रुपये के नोट के खांचे लगाए जाएंगे. यानी एटीएम में छोटे नोट भरे जाएं. सरकार और आरबीआई पहले ही 2000 रुपये के नए नोट नहीं छापने का फैसला ले चुके हैं. और यह बहुत पहले से तय हो गया था कि आने वाले समय में एटीएम से 2000 रुपये के नोट मिलना बंद हो जाएंगे.

@ बलभद्र मिश्रा   




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc