''असली मुखिया या सिर्फ कागजी मुखिया'', विधायक रामेश्वर ने किया शेयर, लोग ले रहे मजे





आज अम्बेडकर जयन्ती पर बोर्ड ऑफिस चौराहे पर BJP नेताओं ने माल्यार्पण कर अम्बेडकर जी के प्रति श्रद्धा जताई. फोटोग्राफर ने फोटो शूट किया तो अलग ही कहानी सामने आई, जिसे लेकर चटखारे लिए जा रहे हैं. असल में पीछे टीवी शो निमकी मुखिया का पोस्टर भी फोटो में आ गया, जिसका पर लिखा है ''असली मुखिया या सिर्फ कागजी मुखिया'' जो निमकी दुनिया नहीं देखे वह इसे प्रदेश के मुखिया से जोड़ कर टिप्पणी कर रहे हैं. 

कार्यक्रम में BJP प्रदेश अध्यक्ष नन्द कुमार सिंह चौहान, सांसद आलोक संजर, महापौर आलोक शर्मा, हुजूर विधायक रामेश्वर शर्मा, सुरेन्द्र सिंह मामा, माल्यार्पण कर रहे थे. विधायक रामेश्वर शर्मा ने तो यही फोटो सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दिया, जिसने प्रदेश के मुखिया पर भी सवाल खड़ा कर दिया. 

'निमकी मुखिया' बिहार और महिला सशक्तिकरण आधारित सीरियल है. स्टार भारत हाईवोल्टेज ड्रामा 'निमकी मुखिया' नाटक के प्रचार का बैनर "असली मुखिया या सिर्फ कागजी मुखिया?" आज प्रदेश में भी चर्चा का विषय बन गया कि क्या यहाँ का मुखिया असली मुखिया है या.... कागजी मुखिया? 

यह भी अजब संयोग है. संविधान निर्माता के सम्मान के दौरान सवाल पीछे से उठ रहे हैं. सवाल भी संविधान के ही एक स्तंभ 'विधायिका' के लोगों से संबंधित है. क्रेन पर चढ़कर अपना कद बाबा साहेब की मूर्ति तक पहुंचा रहे तीनों वर्तमान 'मुखिया' विधायिका से सम्बद्ध हैं. पीछे से उठता धांसू सवाल -'असली मुखिया या सिर्फ कागज़ी मुखिया?'




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc