किसान की दिन रात मेहनत से प्रदेश कर रहा है प्रगति -मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

चंबल के बीहड़ों को गुलजार करने के लिए सरकार बना रही है योजना

किसान दिन को दिन नही कहता, वह रात भर मेहनत करता है। इनकी मेहनत से ही प्रदेश निरंतर प्रगति कर रहा है। ऐसे किसानों को उनकी मेहनत और पसीना का पूरा लाभ और सम्मान मिलेगा। यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना जिले में किसान सम्मान यात्रा के प्रथम पडाव के अवसर पर आयोजित किसान सभा में कहीं। उन्होने  किसान महासभा में जिले के किसानों को सम्मानित भी किया।

उन्होने कहा कि किसानों की मेहनत से ही प्रदेश को पांच वार कृषि कर्मण अवार्ड मिला है। यदि अन्नदाता ही खुश नही होगा तो प्रदेश कैसे सुखी हो सकता है। उन्होने कहा आज प्रदेश में लगभग 40 लाख हेक्टेयर भूमि सिंचित है तथा वर्ष 2025 तक 80 लाख हेक्टेयर क्षेत्र को सिंचित करने का लक्ष्य बनाया है ताकि फसल उत्पादन में वृद्धि हो। उन्होने कहा कि जब उत्पादन की अधिकता होती है तो कई बार फसलों के दाम गिर जाते है। किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य मिले, इसके लिए प्रदेश सरकार कई योजनाए संचालित कर रही है।

उन्होने कहा कि भारत सरकार द्वारा फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया जाता है। प्रदेश सरकार भी समय समय पर इस पर अन्य लाभ भी जोड़ देती है। अब फसल का मूल्य निर्धारण के लिए प्रदेश में समिति गठित की गई है। इसी प्रकार फसलों का विदेशों में भी निर्यात हो इसके लिए कृषि उत्पाद निर्यात एजेंसी बनाई जा रही है।

उन्होने कहा किसान के घाटे की भरपाई प्रदेश सरकार करेगी। यदि किसी भी आपदा से किसान की फसल को 50 प्रतिशत से अधिक नुकसान होता है तो किसान को प्रति हेक्टेयर भूमि पर 30 हजार रूपये की राहत राशि प्रदान की जाएगी।

उन्होने कहा मजदूर कल्याण के लिए असंगठित कर्मकार कल्याण योजना प्रारंभ की गई है। जिसके लिए  प्रदेश भर में व्यापक अभियान भी चलाया जा रहा है। इसके तहत ढाई एकड़ से कम भूमि वाले किसान को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। उन्होने कहा कि चंबल क्षेत्र के विकास के लिए किसानों की मेहनत के साथ सरकार भी पूरी तरह से उनके साथ है। चंबल नहर, जिसका पानी पूर्व में मुरैना तक भी नही पहुंचता था, आज पूरे चंबल रीजन में पहुंचाया जा रहा है। चंबल के बीहड़ों को गुलजार करने के लिए चंबल एक्सप्रेस वे का निर्माण किया जा रहा है और चंबल रीजन में आर्मी की भर्ती हो, इसके लिए भी प्रयास किए जा रहे है।

उन्होने कहा किसान सम्मान यात्रा का उद्देश्य किसानों को उनकी मेहनत का पूरा लाभ देना तथा खेती को लाभ का धंधा बनाना है। यह यात्रा प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में जाएगी और किसानों का सम्मान करेगी।
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc