फलां नेता ने ये कहा, फलां नेता ने वो कहा, यही भर ख़बरें नहीं होतीं, खबर यह भी है

लूट-ह्त्या, बलात्कार, भ्रष्टाचार या फलां नेता ने ये कहा,  फलां नेता ने वो कहा यही भर ख़बरें नहीं होतीं. ख़बरें यह भी होती हैं. देखिये - 

ये हैं श्री पी एल चौहान साहेब, जो कि अहिंसा विहार कालोनी भोपाल मध्यप्रदेश में रहते हैं, ये बड़े नेक इंसान हैं. श्री चौहान समाज सेवा में भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं. इनके अंदर किसी भी तरह का सामाजिक भेदभाव नहीं है. सभी के साथ मिलकर कार्य करते हैं और सभी को साथ ले के चलने की सोच रखते हुए आगे बढ़ते हैं. ये इसलिए सभी की पसंद हैं कि इनमें राजनैतिक दावपेंच नहीं हैं. जैसे कि लोग अपना बनाकर पीछे से विरोध कर देते हैं. किसी को आगे नहीं बढ़ने देते हैं. इनके अंदर ऐसा कुछ नहीं है. 

ये जो कहना है सामने ही कह देते हैं और अपना दिल साफ़ रखते हैं. इसलिए में इनका तहे दिल से सम्मान करता हूँ और कहना चाहता हूँ कि सभी को ऐसे लोगों के लिए हमेशा अपने दिल में जगह बनाकर रखना चाहिए और दिल से सम्मान करना चाहिए. मेरी राय में यह खबर है, क्योंकि हो सकता है इसे पढ़ कर हम भी, और कोई और भी उन जैसे बनने के प्रयास कर सकें. ताकि सामाजिक सहयोग बढे, एक दुसरे के प्रति प्रेम बढ़ सके. 

@ राजेन्द्र जैन   

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc