आप देश के नौजवानों के आदर्श होते हैं, कहाँ मत्था टेक रहे हैं, अवश्य देखें




Related image

''अगर ईश्वर के सिवाय कहीं और मन लगाया तो अंत में रोना ही पडेगा. ऐसा आशाराम ने 22 जून 2013 को अहमदावाद में कहा था. और वह व्यक्ति खुद ईश्वर के सिवाय कहीं और मन लगा रहा था. तो यह परिणाम तो आना ही था, लेकिन इसी के साथ राजनीति के कई धुरंधरों की पोल खुल रही है.''

इनमें सबसे प्रमुख प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का वीडियो वायरल हो रहा है. अटल विहारी जैसे दिग्गज भी अछूते नहीं रह सकें हैं, गृहमंत्री राजनाथ सिंह या कोई और किसी भी पार्टी के राजनेता सब के सब घेरे में आ गए हैं. हमाम में सब नंगे हैं की तरह. 

Related image

इसके पूर्व में भी ऐसे कई मामले आये हैं जब कोई कथित संत या अपराधी पकड़ाया और उसके साथ बड़े नेताओं के फोटो वायरल हुए. लेकिन अब कम से कम राजनेताओं को यह अच्छे से समझ लेना चाहिए कि वह हमेशा ही यह अवश्य देखें कि कहाँ झुक रहे हैं? किस के आगे मत्था टेक रहे हैं? किसके साथ पोज दे रहे हैं? यह इसलिए आवश्यक है कि आप देश के नौजवानों के लिए आदर्श होते हैं. आदर्श ही इस प्रकार से गिरे हुए होंगे, तो देश का क्या होगा?
अब सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में प्रधानमंत्री मोदी बलात्कारी आसाराम के पैर छूते हुए नज़र आ रहे हैं. जिसके बाद मोदी ने आसाराम के प्रति अपनी भक्ति का ज़िक्र भी किया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने प्रवचन में आसाराम पर कहा था कि मेरा सौभाग्य रहा है कि जीवन में जब कोई नहीं जानता था, उस समय से बापू का आर्शीवाद मुझे मिलता रहा हैं, स्नेह मिलता रहा है. आज भी स्नेह मिल रहा है, मैं मानता हूं कि बापू के शब्दों में एक यौगिक शक्ति रहती है. मैं बापू के श्री चरणों में वंदन करता हूं.
उल्लेखनीय है कि 2014 में पीएम बनने के लिए मोदी आसाराम का आशीर्वाद लेने गए थे. और चुनाव परिणाम आने के बाद आसाराम ने कहा था – मैंने आशीर्वाद दिया, तो नरेंद्र मोदी PM बन गए. अब लोग कह रहे हैं आशीर्वाद अब महंगा न पड़ जाए..
निश्चित ही आज वायरल हो रहे इस वीडियो से हर आम आदमी को तकलीफ हुई होगी. देखिये -







Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc