हार्दिक ने बताया गोपाल को 'ठन-ठन गोपाल' तो गोपाल ने कहा 'सरदारों के मुहल्ले में आकर सैलून की दुकान न खोले'




''राजनीति में बस यही सब रह गया है. जनता की तालियाँ बटोरने चुटकुले छोडो. विरोधियों के लिए कुछ भी कहो तालियाँ बजबाओ. यही सब चल रहा है आजकल. ऐसा ही माजरा आज गढ़ाकोटा  में सामने आया.''

                                                                                            @ बलभद्र मिश्रा  

असल में पाटीदार आन्दोलन से उभरे हार्दिक पटेल इन दिनों मध्यप्रदेश में किसानों से संपर्क कर रहे हैं. उनकी समस्याएं सुन रहे हैं. इसी क्रम में आज वे पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव के क्षेत्र गढ़ाकोटा में सभा किये. यहाँ उन्होंने क्षेत्र की समस्याओं के लिए सीधे सीधे मंत्री गोपाल भार्गव को जिम्मेदार बताते हुए उन्हें ठन-ठन गोपाल बता दिया. कार्यक्रम में भीड़ भी अच्छी रही. इससे BJP नेताओं में खलबली मच गई है. हालांकि जबाबी हमले में मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि सरदारों के मुहल्ले में आकर वो सैलून की दुकान न खोले. 

जिम्मेदारों की यह भाषा कितनी सही है, बात करें तो पब्लिक का कहना है कि इन्हें खुद ही नहीं मालूम कि यह क्या बोल रहे हैं. जनता है सब जानती है, सब देख रही है और समय पर जबाब भी देगी. 

उल्लेखनीय है कि कहते हैं मंत्री की इजाजत के बिना यहाँ परिंदा भी पर नहीं मार सकता. लेकिन कमलेश साहू गोपाल भार्गव के गढ़ में उन्हीं की खिलाफत कर रहे थे. किसान सम्मलेन को गोपाल भार्गव के विरोध में देखा जा रहा था और कमलेश साहू परदे के पीछे से सम्मलेन को सपोर्ट कर रहे थे. हाल में पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते संघ से जुड़े और सांसद प्रतिनिधि कमलेश साहू को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्काषित कर दिया था. कमलेश साहू ने मीडिया से बातचीत में अपने निष्कासन को गलत बताया और कहा कि रहली गढ़ाकोटा विधानसभा में बिहार जैसे हालात हैं. यहाँ बिहार से भी ज्यादा दहशत का माहौल है. उन्होंने अपनी जान को भी ख़तरा बताया. उन्होंने यह भी कहा कि वास्तव हमारी रहली गढ़ाकोटा विधानसभा में हमारे यहाँ भारतीय जनता पार्टी नहीं है. यहाँ भार्गव जनता पार्टी चलती है. और मैंने इसका सदस्य बनाने से इनकार कर दिया है. देखें वीडियो - 





गढ़ाकोटा में हार्दिक ने किसानों के दिल को खुश कर देने वाला भाषण दिया. देखिये वीडियो 








Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc