CM शिवराज ने कहा 'IAS-IPS में भारत-पाक जैसी लड़ाई', CS बोले 'कोई मतभेद या विवाद नहीं, सभी मिल-जुल कर करते हैं काम'



''जैसे जैसे चुनाव पास आ रहे हैं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह किसी भी प्रकार सत्ता में वापिसी के लिए प्रयास करते नजर आ रहे हैं. इसके लिए वे जनता को भ्रमित करने वाले बयान भी दे  देते हैं. हाल में उन्होंने सिविल सर्विसेज डे पर प्रदेश के आईएएस, आईपीएस अफसरों से बातचीत के मौके पर  इंडियन सिविल सर्विसेज के ऑफिसर्स के बीच के विवाद की तुलना भारत-पाकिस्तान से कर डाली. उन्होंने कहा कि आईएएस, आईपीएस अफसरों के अंदर ईगो बहुत है. मुझे ये देखकर तकलीफ होती है. अफसर इसे दूर करें अौर जनता के लिए काम करें.''

इस प्रकार का बयान देकर उन्होंने बताना चाहा कि वे तो जनता की भलाई के लिए काम करना चाहते हैं, लेकिन ब्यूरोक्रेसी बाधा बन रही है. जबकि पिछले वर्ष ही मध्य प्रदेश आईएएस ऐसोसिएशन की सर्विस मीट के शुभारंभ मौके पर उन्होंने राज्य की नौकरशाही को देश की सबसे बेहतर नौकरशाही बताया था. तब उन्होंने कहा था कि मध्य प्रदेश की नौकरशाही देश की सबसे अच्छी नौकरशाही है. यहां जिलाधिकारी से लेकर वरिष्ठ सचिव स्तर के अधिकारी भी जनता के साथ मिलकर और उनकी अपेक्षाओं के अनुरूप काम करते हैं.

मामले में इस अवसर पर उपस्थित मुख्य सचिव बी पी सिंह ने मुख्यमंत्री की बात को काटते हुए कहा कि अधिकारियों के बीच किसी भी बात को लेकर कोई मतभेद या विवाद नहीं है. और सभी अधिकारी मिल-जुलकर काम करते हैं. 

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शिवराज इसके पहले भी कई बार राज्य के प्रशासनिक अफसरों पर तल्ख टिप्पणी कर चुके हैं. एक बार तो जब मुख्यमंत्री की ऐसी बातों से रुष्ट होकर हड़ताल करने तक की नौबत आ गई तब मुख्य सचिव बी पी सिंह ने ही मामला सम्भाला था और कहा था कि नेताओं की बातों को दिल पर क्यों लेते हो.

हाल के मामले में मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने सीएम के बयान को Lighte way (सामान्य तरीके से) में कही गई बातचीत बताया है. मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि ये मीडिया के लिए नहीं था. ये अंदरुनी बातचीत थी, इसे मीडिया को भी उसी अंदाज में लेना चाहिए था. 

वहीं, इस मामले में मुख्य सचिव ने कहा कि अधिकारियों के बीच किसी भी बात को लेकर कोई मतभेद या विवाद नहीं हैं. सभी अधिकारी मिल-जुलकर काम करते हैं. उल्लेखनीय है कि विधायक और मंत्री अक्सर इस बात की शिकायत करते रहते हैं कि अधिकारी उनकी बात को तवज्जो नहीं देते हैं. 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc