सीएम हेल्पलाइन की शिकायतें तीन माह से भी अधिक समय से बड़ी संख्या में पेंडिंग, कलेक्टर ने दिए सख्ती के निर्देश

 

''सीएम हेल्पलाइन की शिकायतें तीन माह से भी अधिक समय से बड़ी संख्या में पेंडिंग पाई जाने पर कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज ने आश्चर्य व्यक्त किया और अपनी  नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि जिला स्तर पर शिकायतों का निराकरण न किए जाने के लिए सम्बन्धित अधिकारी पूरी तरह जिम्मेदार हैं। वे इसकी वाजिब वजह बताने में भी नाकामयाब रहे हैं। उन्होंने इनके निराकरण के लिए फौरन कदम उठाए जाने के निर्देश दिए हैं, साथ ही अन्यथा सख्त कार्यवाही की चेतावनी भी दी है। ''

जबलपुर।  कलेक्टर श्रीमती छवि भारद्वाज ने जिले में सीएम हेल्पलाइन की बड़ी संख्या में लम्बित शिकायतों को लेकर सख्त रूख अख्तियार करते हुए साफ तौर पर कहा कि इस सिलसिले में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने लम्बित शिकायतों के निराकरण के लिए दो माह की मियाद मुकर्रर करते हुए ताकीद की कि तयशुदा अवधि में समग्र रूप से 60 फीसदी शिकायतों का निराकरण करने में असफल रहने वाले अधिकारियों और सम्बन्धित अधीनस्थ अमले का वेतन रोक दिया जाएगा। वेतन का आहरण तभी संभव होगा जब सम्बन्धित अधिकारी लम्बित प्रकरणों का निराकरण कर देंगे।

श्रीमती भारद्वाज यहां समय-सीमा बैठक में बोल रही थीं। इसके पहले उन्होंने लम्बे समय से लम्बित सीएम हेल्पलाइन शिकायतों की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि 70 प्रतिशत शिकायतें एल-1 स्तर पर ही निराकृत की जानी चाहिए। इसी प्रकार एल-2 स्तर से एल-3 स्तर पर जाने वाली शिकायतों की संख्या भी 30 प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए तथा एल-4 स्तर तक अपवाद स्वरूप एक या दो शिकायतें ही जानी चाहिए। 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc