योगी सरकार के रामराज्य पर भी अब उठने लगे सवाल, गैंगरेप पीड़िता चीख चीख कर जिसे बता रही है बलात्कारी, वह बता रहा है खुद को राम



Image result for योगी

''उत्तरप्रदेश में गैंगरेप पीड़िता चीख चीख कर कह रही है मेरे साथ भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने एक और के साथ गैंगरेप किया, लेकिन प्रदेश की योगी सरकार चुप है.''

सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की कल जेल में मौत के बाद जब सरकार चौतरफा घिरी तो विधायक के भाई को गिरफ्तार किया गया. और इसके बाद FIR में नाम जोड़ा जा रहा है. यदि मौत नहीं होती तो FIR में नाम तक नहीं जोड़ा जा रहा था. अब तक FIR में नाम तक नहीं जोड़ा जा रहा था और अब डीजीपी ओपी सिंह बता रहे हैं कि अतुल सिंह के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य मौजूद हैं. 

उन्नाव में करीब पांच दिन पहले गैंगरेप पीड़िता किशोरी के पिता को विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई और उसके गुर्गों ने न्यायलय में लंबित चल रहे मुकदमे को वापस लेने से इंकार करने पर वहां पीट-पीट कर अधमरा कर दिया था. इसके बाद माखी पुलिस ने किशोरी के पिता के खिलाफ ही मुकदमा दर्ज कर उसको जेल भेज दिया था, जहां पर उसकी मौत हो गई. इसके बाद जब किशोरी ने भी विधानसभा के सामने अात्मदाह का प्रयास किया, जिसके बाद मामला बढ़ गया.


किशोरी की मां की तरफ से दी गई तहरीर में विधायक के भाई का नाम पुलिस ने दर्ज नहीं किया था. बीती 3 अप्रैल को केस वापस लेने के लिए विधायक के भाई ने पीड़िता के पिता को बेहरहमी से पीटा था और मारपीट का मुकदमा लिखवाकर पीड़िता के पिता को ही जेल भेज दिया था. 9 अप्रैल को गैंगरेप पीड़िता के पिता की सोमवार को जेल में ही मौत हो गई, जिसके बाद गैंगरेप पीड़िता के परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया था. देखिये वीडियो - 


मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश करने वाली गैंगरेप पीड़िता का आरोप है कि विधायक के दबंग भाई और उनके गुर्गे घर से उसके पिता को घसीटते असलहे के बल पर ले गए, जिसके बाद उन्हें पेड़ से बांध का जमकर पीटा गया था. उसके बाद उन्हें पुलिस की मिलीभगत से हवालात में बंद कर दिया गया, जहां इलाज अभाव में उसकी मौत हो गई. पीड़िता का कहना है कि विधायक कुलदीप सेंगर को गिरफ्तार नहीं किया गया. मैं चाहती हूं कि उन्हें मौत की सजा दी जाए. उन्होंने मेरे पिता को मारा है. पीड़िता का यह भी कहना है कि जल्द ही उसे भी मौत के घाट उतार दिया जाएगा.

बलात्कार के आरोपी BJP विधायक ने बताया खुद को राम  
इधर विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने अपनी तुलना भगवान राम से की है. उन्नाव में सामूहिक दुष्कर्म के मामले में आरोपित कुलदीप सिंह सेंगर ने कहा कि मेरे ऊपर आरोप लगा है, और आरोप तो भगवान राम पर भी लगा था. विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने इस गंभीर आरोप को बेहद हल्के ढंग से लेते हुए कहा कि किशोरी के आरोप निराधार हैं. 

मुख्यमंत्री कार्यालय पहुंचे कुलदीप सिंह सेंगर ने मुख्यमंत्री से मिलकर सफाई दी है. सफाई में उन्होंने कहा है कि आरोप लगाने वाले लोग अपराधी किस्म के हैं. उन्होंने कहा कि वह चार बार से विधायक हैं. जेल में हत्या आदि करवाना उनका काम नहीं है. चेहरे पर सामान्य भाव लेकर मुख्यमंत्री सचिवालय से बाहर निकले विधायक ने कहा कि दुष्कर्म के आरोप झूठे हैं. पूरी कहानी मनगढंत है. किशोरी के चाचा उन्हें बदनाम करने के लिए ऐसे आरोप लगवा रहे हैं. उन्होंने पूरे मामले में उच्चस्तरीय जांच कराए जाने की मांग भी की है. लेकिन ऐसे हालात में जांच क्या होती है यह सब जानते हैं. गैंगरेप पीड़ित किशोरी ने लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के बाहर परिवार संग आत्मदाह का प्रयास किया. तब जाकर बमुश्किल इतना हो सका है. 

योगी सरकार की कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान  
उन्नाव रेप केस में रेप पीड़िता के पिता की जेल में संदिग्ध मौत मामले में विपक्ष जहां योगी सरकार पर हमलावर है. वहीं, सरकार मामले में निष्पक्ष कार्रवाई का दावा कर रही है. सीएम योगी आदित्यनाथ कह रहे हैं कि किसी भी दोषी को नहीं बख्शेंगे, जबकि उनके ही गृह विभाग की ओर से आरोपी बीजेपी विधायक को क्लीन चिट दे दी गई है. दुसरी ओर आज योगी सरकार ने पूर्व केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री और मुमुक्षु आश्रम के प्रमुख स्‍वामी चिन्‍मयानंद पर दर्ज बलात्‍कार का मुकदमा वापस लेने का फैसला किया है. इससे उनकी कार्यप्रणाली पर भी सवालिया निशान लग गए हैं. 

जौनपुर से सांसद बनने के बाद स्वामी चिन्मयानंद वाजपेयी सरकार में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री थे. इस दौरान उनके संपर्क में आईं बदायूं निवासी साध्वी चिदर्पिता नामक महिला ने 2011 में उन पर हरिद्वार के आश्रम में बंधक बनाकर दुष्कर्म का आरोप लगाया था. चिदर्पिता के बयान पर स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ शाहजहांपुर कोतवाली में 30 नवंबर 2011 को दुष्कर्म करने और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज किया था.

@ बलभद्र मिश्रा  





Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc