प्रदेश में रिश्वतखोरी चरम पर, एक दिन में दो SDM के रीडर रिश्वत लेते धराये





भोपाल में SDM का रीडर रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ाया

''आज अलग अलग दो मामलों में SDM जैसे महत्वपूर्ण पद के रीडर रिश्वत लेते पकडे गए हैं एक मामला डिंडोरी का है तो दुसरा राजधानी भोपाल का है जबलपुर लोकायुक्त की कार्यवाही में डिंडोरी SDM का रीडर 3000 की मामूली रकम लेते रंगे हाथ पकड़ाया है, तो वहीँ राजधानी भोपाल के गोविन्दपुरा SDM का रीडर भी 3000 लेते पकड़ा गया है। अभी कुछ ही दिन हुए हैं जब एक अपर कलेक्टर भी रिश्वत लेते पकडे गए कहा जा सकता है कि प्रदेश में रिश्वतखोरी कितने चरम पर है''

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के गोविंदपुरा एसडीएम मुकुल गुप्ता के न्यायालय कक्ष में रिश्वतखोरी का खेल खुलेआम चल रहा था। लोकायुक्त पुलिस ने एक छापामार कार्रवाई कर एसडीएम के रीडर राजेन्द्र राजपूत को रंगे हाथों रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। कहा जा रहा है कि यह रिश्वत वसूली एसडीएम की जानकारी में थी। आरोप तो यह भी है कि इस रिश्वत का एक हिस्सा एसडीएम को दिया जाता था, इसी के चलते आॅफिस के भीतर खुलेआम रिश्वत वसूली की जाती थी। 

लोकायुक्त इंस्पेक्टर वीके सिंह ने बताया कि एसडीएम के रीडर राजेन्द्र राजपूत ने यह रिश्वत डायवर्शन के एक प्रकरण को खत्म करने के लिए मांगी थी। दामखेड़ा निवासी बालमुकुंद साहू की पत्नी मालती साहू को उसकी 35 डेसिमल जमीन पर बिना अनुमति के निर्माण के सिलसिले में एसडीएम ने नोटिस देकर पिछली 8 फरवरी को जवाब देने को कहा था। बालमुकुंद साहू जब एसडीएम के रीडर राजेन्द्र राजपूत से मिला तो उसने प्रकरण खत्म करने के ऐवज में 5 हजार रुपए की मांग की थी।

बालमुकुंद साहू ने 2 हजार रुपए की रिश्वत की पहली किश्त पिछले शुक्रवार को राजेन्द्र राजपूत को दी थी। बाकी के तीन हजार रुपए बालमुकुंद साहू ने आज सोमवार को राजेन्द्र राजपूत को देकर उसे ट्रेप करा दिया। रिश्वत के पैसों में 2 हजार रुपए का एक नोट और 500-500 रुपए के दो नोट थे।

लोकायुक्त इंस्पेक्टर ने बताया कि बालमुकुंद साहू ने एसडीएम न्यायालय कक्ष में राजेन्द्र राजपूत को यह रिश्वत दी। जैसे ही राजपूत ने रिश्वत के पैसे लेकर अपनी जेब में रखे, लोकायुक्त टीम ने उसे दबोच लिया। सबूत के तौर पर राजेन्द्र राजपूत के पानी से हाथ धुलाए गए और उसकी पेंट को भी जप्त कर लिया। बाद में राजपूत को लोकायुक्त पुलिस ने मुचलके पर रिहा कर दिया।


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc