स्वच्छता में देश का न. 2 शहर भोपाल की फुटपाथों पर बिकने सजता है मांस-मछली


भोपाल. शहर में मांस-मछली की सार्वजानिक फुटपाथों पर खुले में बिक्री हो रही है. शहर के मुख्य स्थानों पर भी ऐसा हो रहा है, कोई देखने वाला नहीं है. इन दुकानों ने न केवल फुटपाथ पर अतिक्रमण कर रखा है बल्कि गंदगी भी वहां फैला रहे हैं. फुटपाथ ख़त्म हो जाने से पैदल यात्री सड़क पर चलते हैं. इससे कभी भी कोई घटना हो सकती है.

इसी के साथ जो लोग मांसाहारी नहीं हैं,
इसी के साथ जो लोग मांसाहारी नहीं हैं, वह यहाँ से गुजरने में तकलीफ महसूस करते हैं. जब वह यहाँ से गुजर रहे होते हैं और ये लोग मछली काट रहे होते हैं या मांस चिकन का काम कर रहे होते हैं तब ऐसे में उन शाकाहारी लोगों की स्थिति क्या होती होगी समझा जा सकता है. वह यहाँ से गुजरने में तकलीफ महसूस करते हैं. नागरिक मांस मछली की दुकानों को खुले से हटाकर कहीं अन्य आड़ वाली जगह पर किये जाने की मांग कर रहे हैं. 


मुर्गे की तरह ज़िंदा मछली भी मिलती हैं यहाँ काटकर
इतना ही नहीं शहर के पाश इलाके बाणगंगा में कृतिम तालाब जैसा बनाकर उसमें ज़िंदा मछली रखी गईं हैं, जिन्हें मांगने पर काट कर दिया जाता है.
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc