शिक्षकों को गैरशिक्षकीय कार्य में न लगाया जाए, आदेश की विदिशा में उड़ाई जा रही हैं धज्जियां



शासन के स्पष्ट आदेश कि शिक्षकों को गैरशिक्षकीय कार्यों में न लगाया जाये, के बाबजूद जिला प्रशासन द्वारा  जिले में शिक्षकों को गैरशिक्षकीय कार्य निर्वाचन कार्य में लगाया गया है. जिले में शिक्षक बीएलओ बनकर घर घर घूम रहे हैं. स्कूलों में अनुपस्थिति से शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहे हैं.

हाल ही में एक बार फिर 8 नबम्बर 17 को शासन ने शिक्षकों को गैरशिक्षकीय कार्यों में न लगाया जाये को लेकर सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश भी जारी किये पर, विदिशा में आदेश की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. जब शिक्षकों ने अपने विभाग के मुखिया एच एन नेमा जिला शिक्षाधिकारी विदिशा से संपर्क कर इस बारे में बताया तो उन्होंने यह तो माना कि राज्य शासन के निर्देश के बाबजूद सर्वे में शिक्षकों की ड्यूटी लगाना उचित नहीं है, लेकिन अपने से कोई कार्यवाही करने के बजाय अपने हाथ खड़े कर दिए और शिक्षकों को अपने स्तर से निपटने के लिए कहा. 

''विशेष पुनरीक्षण अभियान में शिक्षकों की ड्यूटी लगाने से पूर्व जिला प्रशासन ने शिक्षा विभाग को कोई जानकारी नहीं दी. राज्य शासन के निर्देश के बाबजूद सर्वे में शिक्षकों की ड्यूटी लगाना उचित नहीं है. शिक्षकों को अपने स्तर पर इसका विरोध करना चाहिए. " - एच एन नेमा जिला शिक्षाधिकारी विदिशा

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc