कम पैसे मिलने पर किसान की हार्टअटैक से मौत, शव ऐसे ले गए बेटे


महोबा (उ.प्र.). एक बार फिर मानवता हुई तार तार. बैलगाड़ी में रखा शव महोबा के किसान बालादीन का है, जो काफी दिनों से बीमार थे. 80 साल के बालादीन कई दिनों से बैंक के चक्कर लगा रहे थे, उन्हें इलाज के लिए 15 हजार रुपये की जरूरत थी, लेकिन तीन दिन बाद जब सिर्फ 6 हजार ही मिले तो बैंक में ही हार्टअटैक से उनकी मौत हो गई. 
इसके बाद पुलिस ने उनके बेटों से बैलगाड़ी में शव रखकर थाने पहुंचने को कहा. दोनों ने शव को बैलगाड़ी में रखा, लेकिन गाड़ी खींचने के लिए बैल नहीं थे, इसलिए उन दोनों ने बैल की तरह गाड़ी खींचकर बाप की लाश को थाने तक पहुंचाया. मृतक के बेटे रामपाल ने कहा है कि पिता के शव को हम बैलगाड़ी पर रखकर खींचते रहे, लेकिन किसी ने मदद नहीं की.
एसपी गौरव सिंह ने कहा है मामला संज्ञान में आया है. ऐसा कैसे हुआ, क्या परिस्थितियां थीं, इसकी जांच की जा रही है.
@ अंकित द्विवेदी 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc