गुजरात चुनाव नहीं लड़ेगी हार्दिक टीम, कांग्रेस को दिल से समर्थन


अहमदाबाद. पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के नेता हार्दिक पटेल की टीम ने गुजरात में चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया है. हार्दिक पटेल ने बताया है कि गुजरात चुनाव में पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति कांग्रेस को समर्थन देगी. पाटीदारों को ओबीसी के तहत आरक्षण देने की मांग से पीछे हटते हुए उन्होंने कांग्रेस के ओबीसी के समकक्ष आरक्षण फार्मूले पर रजामंदी जताई है.

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने आज यहाँ एक पत्रकार वार्ता में कहा कि वे आरक्षण से वंचित पाटीदार व अन्य वर्गों के सामाजिक न्याय के लिए आंदोलन चला रहे हैं. उन्होंने कहा भाजपा ने पाटीदारों पर अत्याचार किया और अब चुनाव आते ही उनकी टीम को तोड़ने में जुटी है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने इस चुनाव में पास के फर्जी संयोजकों को बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ाने के लिए 200 करोड़ रुपये का कोष रखा है. भाजपा द्वारा बिकाऊ माल कहे जाने के जवाब में हार्दिक ने कहा कि 
जब वह जेल में थे, तब सरकार ने उन्हें 1200 करोड़ रुपये का ऑफर दिया था, तब नहीं बिका तो अब तो सवाल ही नहीं है.

कांग्रेस का एजेंट होने के आरोप पर उन्होंने कहा कि वह गुजरात की छह करोड़ जनता के एजेंट हैं. भाजपा को इस चुनाव में हराना ही उनका लक्ष्य है. हार्दिक ने आरक्षण के संबंध में कहा है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल आदि ने संविधान के अनुच्छेद 46, 47 के तहत आरक्षण से वंचित व पिछड़े वर्ग को आरक्षण दिलाने का वादा किया है.
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc