रिश्वत लेते निवाड़ी वीआरसीसी कौशिक रंगे हाथ गिरफ्तार



अभी अभी ब्रेकिंग न्यूज़  


टीकमगढ़. निवाड़ी विकासखण्ड अकादमिक समन्वयक अधिकारी ( BRCC )पद पर कार्यरत्त उच्च श्रेणी शिक्षक हरिशंकर कौशिक को मध्यान्ह भोजन के भुगतान के बदले लोकायुक्त पुलिस सागर की टीम ने 2000 रूपये की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथो गिरफ्तार कर लिया.
बताया जाता है कि प्राथमिक शाला शायसी एवं शिक्षा गारंटी हरिजन वस्ती में संचालित दो अन्य आगनवाडी  केन्द्रों में महिला स्वसहायता समूह के माध्यम से मध्यान्ह भोजन वितरण किया जाता था.
मध्यान्ह भोजन का कई माह से भुगतान नही किये जाने के कारण समूह की आर्थिक व्यवस्था चरमरा गयी थी.
महिला समूह की अध्यक्ष भूरी अहिरवार, सचिव मुन्नी देवी अहिरवार स्वयं के खर्चे से कर्जा लेकर समूह संचालित कर रही थी. अनाज और खाद्य सामग्री भुगतान की राशि बीआरसीसी कौशिक लम्बे समय से आशा देकर टाल रहे थे.
यह भी आरोप है कि भूरी अहिरवार के पति मंगललाल ने जनशिक्षा केन्द्र जाकर विकासखण्ड अकादमिक समन्वयक अधिकारी हरिशंकर कौशिक से मध्यान्ह भोजन की निजी व्यय राशि भुगतान कराने का आग्रह किया तो वीवीआरसी कौशिक ने दो हजार रूपये की मांग कर डाली.

आर्थिक तंगी से गुजर रहे अहिरवार दम्पत्ति ने इसकी सूचना लोकायुक्त पुलिस सागर को दी. जिस पर निरीक्षक संतोष जमरा, आर प्रदीप खरे, आशुतोष व्यास, सुरेन्द्र प्रताप सिह, मनोज कैर्कू की लोकायुक्त टीम ने वीआरसीसी हरिशंकर कौशिक को दो हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार कर लिया और वैधानिक कार्यवाही शुरू कर दी.


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc