1000 में घर बैठकर बनवा दिया आतंकी का पासपोर्ट


सिर्फ पासपोर्ट पर मुहर ही नहीं लगी बल्कि आतंकी ने सरकारी विभाग के कई बाबुओं की जेबों को गर्म कर राशन कार्ड बनवाने के साथ दो बैंक अकाउंट भी खोल लिए थे। गौरतलब है कि आम आदमी को ये सब कार्य कराने में पसीने छूट जाते हैं लेकिन जेब गर्म कर सरकारी कर्मचारी देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

मुरादाबाद। लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी फरहान ने बैंक एकाउंट खुलवाने के साथ-साथ पासपोर्ट की रिपोर्ट भी दरोगा की जेब गर्म करके अपने मुताबिक तरीके से लगवाई थी। करीब 50 हजार की पगार पाने वाले दरोगा ने महज एक हजार रुपए में अपना जमीर आतंकी के हाथों बेंच दिया था। तत्कालीन चौकी इंचार्ज ने घर बैठकर आतंकी के पासपोर्ट की रिपोर्ट OK कर लगा दी थी। जांच में खुलासा होने पर अधिकारियों ने इसे घोर लापरवाही माना। पासपोर्ट पर रिपोर्ट लगाने वाले दरोगा व तत्कालीन इंस्पेक्टर कटघर के खिलाफ जांच शुरू करने के निर्देश दिए हैं।
मुगलपुरा थाना पुलिस और ATS की मदद से बरबलान मोहल्ले में 26 अक्तूबर को गिरफ्तार आतंकी फरहान का रिकार्ड खंगालने में सुरक्षा एजेंसियां जुटी हुई हैं। हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। उसके मंसूबे नापाक थे। ताजमहल, लालकिला समेत देश की धरोहर उसके निशाने पर थीं। देश भर में वह आतंकी नेटवर्क तैयार कर रहा था। मदरसे के बच्चों का ब्रेनवाश करने का भी काम कर रहा था। फर्जी पासपोर्ट से वह कुवैत का भी सफर कर चुका था। गोधरा कांड में शामिल अहमद बख्शी से वह लगातार संपर्क में था।
जांच एजेंसियों ने उसके पासपोर्ट की जांच की तो बेहद चौंकाने वाला खुलासा हुआ। तत्कालीन चौकी इंचार्ज ने मात्र एक हजार रुपए लेकर देश की सुरक्षा का सौदा आतंकी से कर डाला था। पासपोर्ट की रिपोर्ट ओके लगा दी थी। पासपोर्ट 2012 में दो नवंबर को जारी किया गया था। एकता कालोनी के पते पर बनवाया गया था। इसे एसएसपी डाक्टर प्रीतिंदर सिंह ने गंभीर माना। तत्कालीन चौकी इंचार्ज व इंस्पेक्टर कटघर के खिलाफ जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc