मंत्री पति ने किडनी चुरा दूसरी पत्नी को लगवा दी


आप सोच रहे होंगे यह गिरधारी है कौन ? यह द्वापर युग का कृष्णा नहीं है, जो द्रोपदी की लाज बचाने के लिए अपनी अद्रश्य शक्तियों का प्रयोग करता था। बल्कि यह कलयुग का एक ऐसा शातिर शख्स है, जो इंसानो के अंगों को निकलवाकर उनकी जिंदगी खतरे में डाल देता है। यह कोई और नहीं बल्कि उत्तराखंड की राज्य मंत्री रेखा आर्य का पति गिरधारीलाल साहू उर्फ़ गिरधारी पप्पू है। जिसने नरेशचंद गंगवार नामक व्यक्ति को श्रीलंका में ले जाकर धोखे से उसकी किडनी निकलवाकर अपनी दूसरी पत्नी वैजन्ती माला को प्रत्यारोपित करवा दी।

अपनी जिंदगी को खतरे में देख जब नरेशचंद गंगवार ने इसका विरोध किया तो उसको पैसे देने का लालच देकर चुप करा दिया गया। कुछ दिनों तो वह सदमे में चुप रहा। लेकिन कुछ दिन बाद गंगवार का जमीर जाग उठा और वह " द संडे पोस्ट " के नॉएडा स्थित मुख्यालय आ पहुँचा। जब नरेशचंद गंगवार ने अपनी व्यथाकथा को व्यक्त किया तो इंसानियत के हत्यारे का यह कारनामा उजागर हुआ। 
पीड़ित गंगवार ने नैनीताल में गिरधारी के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया है। लेकिन जिस तरह गिरधारी को मंत्री पति होने के नाते सत्ता का वरदहस्त प्राप्त हो रहा है, उससे न्याय की उम्मीद बेमानी लगती है। देवभूमि में ऐसे अत्याचारियों के सत्ता पर कब्जे और प्रदेश सरकार की रहस्यमय चुप्पी साधना कई सवाल खड़े कर रहा है।
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc