काँग्रेस के लोग गुलामी की मानसिकता में जी रहे हैं : शिवराज


पूंजीवाद समस्याओं का हल नहीं है, दुनिया की समस्याओं का हल कहीं है, तो पंडित दीनदयाल के एकात्म मानववाद के दर्शन में है. मैं फिर दावे के साथ कहना चाहता हूँ कि इंदौर कॉरिडोर की सड़क वाशिंगटन की सड़क से बढ़िया है. हमारी कई चीज़ें अच्छी हैं, लेकिन काँग्रेस के हमारे कई मित्र आज भी गुलामी की मानसिकता में जी रहे हैं. उन्हें लगता है कि अपना सब बेकार है और अमेरिका का सब अच्छा है. प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हम गुलाम मानसिकता में भारत को नहीं रहने देंगे. 

अमेरिका की यात्रा से लौटने के बाद मुख्यमंत्री श्री शिवराज जी ने यह बात फेसबुक पर शेयर की है. उन्होंने लिखा है 'अमेरिका की सफल यात्रा से लौटने पर आज भाजपा के साथियों और कार्यकर्ताओं के स्नेह और उत्साह से आनंदित हूँ. मैं भारतीय दूतावास के निमंत्रण पर अमेरिका गया था और भारत का दर्शन जो पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने एकात्म मानव का दर्शन दिया है, उस पर अपने विचार साझा किया.' 
उन्होंने यह भी लिखा है कि भारत सिरमौर बनेगा और मध्यप्रदेश देश का सबसे अच्छा राज्य बनेगा.
उन्होंने लिखा है अमेरिका से सफल यात्रा कर अपनों के बीच पहुँचकर सुखद अनुभूति हो रही है.और इस बात की खुशी है कि मेरी यह यात्रा प्रदेश में निवेश बढ़ाने, स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने और प्रदेश विकास में काफी उपयोगी सिद्ध होगी. अमेरिका में करीब 400 डॉक्टर्स हैं, जो साल में एक बार मध्यप्रदेश आकर यहाँ के मरीजों का ऑपरेशन करेंगे. 
उन्होंने लिखा है न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय के ब्रुकलिन परिसर में स्थित टंडन स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग में नवाचार एवं उदयमशीलता इंक्यूबेशन सेंटर गया था. इन्क्यूबेशन सेंटर में जिसका आयडिया चुन लिया जाता है, उसे आगे काम करने के लिए मदद की जाती है. हमने भी मध्यप्रदेश में अपने इन्क्यूबेशन सेंटर शुरू किए हैं, जिसमें अमेरिका हमारी मदद करेगा. मैंने सोशल मीडिया और विभिन्न माध्यमों से यात्रा के संबंध में जानकारी देने का प्रयास किया. मुझे लगता है कि मेरी यह यात्रा काफी सफल रही है, इससे प्रदेश को बहुत लाभ होगा.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc