एक बार एम्बुलेंस को रास्ता न दें, तो चलेगा, पर इन्हें आगे जाने से न रोकें






दरअसल ये लोग बुरे नहीं हैं.. ये तो भगवान के भेजे हुए वो शांति दूत होते हैं....

जो खुद का एक्सीडेंट करवा के हमें समझा जाते हैं....कि बाइक धीरे चलायें....  

एक बार एम्बुलेंस को रास्ता न दें, तो चलेगा पर इन्हें आगे जाने से न रोकें...  

- कृष्ण प्रसाद विश्वकर्मा, जौनपुर
जब मैं ट्रैफिक में गाड़ी चला रहा होता हूँ और थोड़ी ज्यादा भीड़ रहती है तो स्पीड कम रखनी पड़ती है और तभी.....पीछे से एक तेजतर्रार हॉर्न सुनाई देता है....बार बार....लगातार....
अरे नहीं साहब....ये हॉर्न किसी एम्बुलेंस का नहीं है....
वो तो पीछे गर्दन घुमाई तो....एक दिव्य तेज प्रकाश में समाई छवि के दर्शन होते हैं....

16-17 साल का लड़का....आँखों पर चोर बाज़ार में 20 रु में मिलने वाले बेहूदा चश्मा लगाए....कानों में काले रंग की बालियाँ....हाथों में सलमान खान टाईप का ब्रेसलेट पहने....जिसकी शक्ल देखकर....चमगादड़ और मनुष्य में फर्क करना मुश्किल हो जाता है...

वो पल्सर या उसी किस्म की हाई पावर नये मॉडल की बाइक पर बैठकर हॉर्न पर हाॅर्न बजा रहा होता है...

उसे आगे जाना है...

मुझसे पहले....हम सब से पहले....!!

भले ही जगह ना हो....सड़क पर भीड़ हो....या सामने से बच्चे ही आ रहे हों लेकिन....उस अक्ल के दुश्मन को तेज गति से आगे जाना है क्योंकि.....

अगले मोड़ में ओबामा या मोदी उसके साथ चाय-सुट्टा पीने के लिए इन्तज़ार कर रहे होते हैं....

मुझे ऐसे लोगों पर बहुत गुस्सा आता है मगर फ़िर भी....मै मुस्कान देकर उन्हें आगे जाने का रास्ता दे देता हूँ....

दरअसल ये लोग बुरे नहीं हैं ।।
ये तो भगवान के भेजे हुए वो शांति दूत होते हैं....जो खुद का एक्सीडेंट करवा के हमें समझा जाते हैं....कि बाइक धीरे चलायें....

ये लोग....सामने खड़ी मौत को गले लगाकर....हमारी जान बचा जाते हैं....
ये लोग एक्सीडेंट में खुद के प्राण त्याग कर....समाज को शिक्षा दे जाते हैं कि....हेलमेट पहनना क्यों जरुरी है....और सन्तुलित वेग में वाहन चलाना क्यों आवश्यक है....
अत: ऐसा कोई भी शांतिदूत मिले तो....उसे नफ़रत से नहीं....बल्कि स्नेह की दृष्टि से देखें....
एक बार एम्बुलेंस को रास्ता न दें, तो चलेगा पर इन्हें आगे जाने से न रोकें.  
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc