विधवा या विकलांग से शादी करने पर मिलेंगे 2 लाख


मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य की निवासी विधवाओं का जीवन संवारने के लिए अब उन युवाओं को लखपति बनाने का फैसला किया है, जो किसी विधवा युवती के साथ सात फेरे लेगा। सरकार ने यह पहल विधवाओं के नीरस हो चुके जीवन में फिर से खुशियां लाने के लिए लिया है। सरकार ने इस योजना के तहत तय किया है कि विधवा से शादी करने वाले युवक को दो लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाए। योजना के तहत यह राशि उन लोगों को दी जाएगी जो 18 से 45 साल तक की विधवा महिलाओं से शादी करेंगे। इसमें शर्त यह रहेगी कि विधवा महिला से शादी करने वाला युवक अविवाहित होना चाहिए। सामाजिक न्याय विभाग द्वारा तैयार किए गए इस प्रस्ताव को विभागीय मंत्री द्वारा मंजूरी दी जा चुकी है। अब इस प्रस्ताव को जल्द ही वित्त विभाग भेजा जाएगा। विधवा महिला से शादी करने पर दो लाख रुपए की राशि देने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य होगा। प्रदेश में पेंशनधारी विधवा महिलाओं की संख्या करीब 15 लाख है। इन्हें हर महीने ३00 रुपए पेंशन दी जाती है।

बताया गया है अन्य सरकारी योजनाओं की तरह इस योजना में किसी तरह का फर्जीवाड़ा न हो सके, इसके लिए सख्त प्रावधान किए जा रहे हैं। इसमें एक अनिवार्य शर्त यह रहेगी की विधवा महिला से शादी करने के बाद कलेक्टोरेट के मैरिज ऑफिस में शादी का रजिस्टेशन कराना होगा। शादी का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के बाद ही दो लाख रुपए की राशि दी जाएगी।
इसी प्रकार सामाजिक न्याय विभाग ने विकलांग युवक युवतियों का भी घर-परिवार बसाने और उन्हें समाज की मुख्यधारा में जोडऩे की पहल की है। यदि कोई सामान्य युवक किसी विकलांग युवती से या सामान्य युवती किसी विकलांग युवक से शादी करता है तो सरकार की ओर से उसे दो लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। इस संबंध में तैयार प्रस्ताव को मंजूरी के लिए वित्त विभाग को भेजा जा रहा है। प्रदेश में करीब 3.5 लाख रजिस्टर्ड विकलांगों को सरकार पेंशन देती है।


विधवाओं को पेंशन प्राबधान में 

बीपीएल परिवार से होने की बाध्यता ख़त्म

इसी के साथ विधवाओं को पेंशन प्राबधान में बीपीएल परिवार से होने की बाध्यता ख़त्म कर दी गयी है. 
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc