कब होंगे आजाद?

स्वतन्त्रता दिवस १५ अगस्त पर विशेष 



कब होंगे आजाद? 
इं. संजीव वर्मा 'सलिल' 
 

कहो हम
कब होंगे आजाद?
*
गए विदेशी पर देशी अंग्रेज कर रहे शासन.
भाषण देतीं सरकारें पर दे न सकीं हैं राशन..
मंत्री से संतरी तक कुटिल कुतंत्री बनकर 
गिद्ध

नोच-खा रहे भारत माँ को ले चटखारे स्वाद
कब होंगे आजाद?
कहो हम
कब होंगे आजाद?
*
नेता-अफसर दुर्योधन हैं, जज-वकील धृतराष्ट्र
धमकी देता सकल राष्ट्र को खुले आम महाराष्ट्र
आँख दिखाते सभी पड़ोसी, देख हमारी फूट
अपने ही हाथों अपना घर करते हम बर्बाद
कब होंगे आजाद?
कहो हम
कब होंगे आजाद?
*
खाप और फतवे हैं अपने मेल-जोल में रोड़ा
भष्टाचारी चौराहे पर खाए न जब तक कोड़ा
तब तक वीर शहीदों के हम बन न सकेंगे वारिस
श्रम की पूजा हो समाज में ध्वस्त न हो मर्याद
कब होंगे आजाद?
कहो हम
कब होंगे आजाद?
*
पनघट फिर आबाद हो सकें, चौपालें जीवंत
अमराई में कोयल कूके, काग न हो श्रीमंत
बौरा-गौरा साथ कर सकें नवभारत निर्माण
जन न्यायालय पहुँच गाँव में विनत सुनें फ़रियाद
कब होंगे आजाद?
कहो हम
कब होंगे आजाद?....
*
रीति-नीति, आचार-विचारों भाषा का हो ज्ञान
समझ बढ़े तो सीखें रुचिकर धर्म प्रीति विज्ञान
सुर न असुर, हम आदम यदि बन पायेंगे इंसान
स्वर्ग तभी तो हो पायेगा धरती पर आबाद
कब होंगे आजाद?
कहो हम
कब होंगे आजाद?

- इं. संजीव वर्मा 'सलिल' 
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc