बाहुबली 2 : भव्यता, विहंगमता, अद्धभुत और राजनीतिक षड्यंत्र का शानदार तालमेल




महिष्मति राज्य का शासन रानी शिव गामिनी (रमैया कृष्णन) सम्भालती है उसका बेटा भल्लाल देव( राणा डग्गुबाती) शुरू से ही कपटी ओर छली है रानी अमरेंद्र बाहुबली (प्रभास) की चाची रानी मा है परन्तु वह इस बालक में वीर ओर पराक्रम को देखते हुवे उसे ही राजा बनाने का निश्चय करती है परंतु उसके पति (नासेर),ओर भल्लालदेव साजिश रचते हैं और अंत में राज खुलता है कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा/
फ़िल्म के कलाकारों पर बात करे तो सारे पात्र शानदार किरदार निर्वाह कर गए. प्रभास ने तो बाहुबली के किरदार को जीवंत बना दिया शायद भारतीय सिने प्रेमी उन्हें हमेशा बाहुबली के नाम से ही जानेंगे.
राणा, रमैया, अनुष्का शेट्टी, सत्यराज सभी शानदार काम कर गए
प्रबल बिंदु है फ़िल्म का छायांकन सन्थील कुमार है  जो कि शानदार होते हुवे आंखों में बस जाता है. 
कम्प्यूटर जनित तकनीक यानी VFX ओर ग्राफिक्स तो आज तक भारत में हुवे काम मे सबसे लाजवाब है जो कि कोशागिरी वेंकटेश राव ने किया है.
इस फ़िल्म से हम हॉलीवुड के सामने खुद को खड़ा पाते है. 
पटकथा भी शानदार है संवाद सटीक और शानदार है. 
फ़िल्म हॉलीवुड की हरक्यूलिस की याद दिलाती है. 
फ़िल्म में प्रजा का बाहुबली के लिए प्यार और समर्पण देखते ही बनता है 
यह फ़िल्म को बाहुबली की सीक्वल न मानते हुवे प्रीक्वल माना जाना चाहिए. 
एक्शन दृश्य आपको सीट पर बांध देगे ओर आंखे नही भिचने देगे इन दृश्यों को अंजाम दिया है हॉलीवुड के एक्शन मास्टर पीटर हींन ने जो कि भारतीय सिनेमा के लिए नई सौगात है. 
भारत मे किसी फिल्म के लिए ऐसा माहोल पहली बार देखा मैंने तो, 
फ़िल्म भारत मे कुल 9000 स्क्रीन्स पर तीन भाषाओ में हिंदी , तमिल, तेलगु में रिलीज हुई है और पहले दिन भारत मे 65 करोड़ आय का अनुमान है. 
ओर विश्व स्तर पर 100 करोड़ पहले दिन कमाई का अनुमान है जो कि सच होता दिख रहा है. 
अगर ऐसा हो जाता है, तो पहली भारतीय फिल्म होगी जो पहले दिन 100 करोड़ ओर सप्ताहंत तक 200 करोड़ पार कर जाएगी, 
सिनेमा घरों में दर्शकों का उत्साह देखते ही बन रहा था सिनेमा घरो में एडवांस में ही 25 करोड़ की बुकिंग हो चुकी है, 

दोस्तो बाहुबली पहली भारतीय फिल्म है जो 250 करोड़ के बजट की फ़िल्म है. 
साथ ही इस फ़िल्म को पूरा करने के लिए प्रभास ने अपनी शादी तक मुल्तवी की है. Ss राजमौली को बधाई और शुक्रिया ऐसी फिल्म की सौगात देने के लिए..
                                                                        समीक्षा : इदरीस खत्री
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc